प्रश्न:- 14 स्थाई निवास का पता

रहें वहीं सौ-सौ साल


स्थाई निवास का पता , अब तक मूल निवास ।
यदि जन्म लिया हो वहॉं , गॉंव शहर जो खास ।।

गॉंव शहर जो खास , रहें वहीं सौ-सौ साल ।
जहां की जायदाद , से दिन-दिन हुए निहाल ।।

कह ’वाणी’ कविराज , पता लिखाए सब वही ।
लिखो मत बार-बार , लिखना केवल तुम ’वही’ ।।


http://2.bp.blogspot.com/_BR8jbtvir7g/SRh8-5KAjiI/AAAAAAAAAx4/wiOtbX5_A9w/s400/2008_11020002.JPG

कवि :-अमृत'वाणी'